फ्री ब्लॉग/वेबसाइट कैसे बनाते है इन हिन्दी?  आज हम इस सवाल का जवाब लेकर आयें है। आपने गूगल में कई सवाल search किये होंगे। क्या आपने कभी यह सोंचा कि ये सवाल के जवाब कौन देता है obisiouly Google तो नहीं। करोडो़ लोग गूगल से अपना सवाल पूंछते है फिर भी गूगल सभी सवालों के जवाब दे देता है।
Blog aur website kaise banaye
Blog Aur Website kaise banaye or banate hai

बात दरअसल ये है कि ये सभी जवाब हम और आप जैसे लोग ही देते है। अब आप सोंच रहे होंगे ऐसे कैसे? जब आप अपना जवाब गूगल में ढूंढते है तो उसमें कई रिजल्ट दिखते है वे सभी दूसरे वेवसाइट या ब्लॉग से ही लिए गये होते है। गूगल बस अपने डाटाबेस में उनकी लिंक्स सेव कर लेता है।

और उन्हीं से यूजर के सवालों का जवाब देता है। इन blogs or websites को जो चलाता है उसे ब्लॉगर बोलते है। यह एक ऐसा plateform है जिसकी मदद से लोग लाखो नहीं करोडो़ कमा रहे है। internet ही एक मात्र ऐसा सोर्स है जिसकी मदद से अपने पैशन को पैसे में बदल सकते है।

इससे घर बैठे लाखो छाप सकते है और इसमें बॉस की डांट सुनने का झंझट भी नहीं है। इसमें खुद आप अपनें मर्जी के मालिक होते है। कई लोग वेबसाइट से कमाई कर रहे है उनमें से shoutmehindi पहले नंबर पर है। यह कमाई लाखो पर होती है।

बहुत से लोग गूगल में सर्च करते है कि Blog क्या है और न्यू हिन्दी blog या website कैसे बनायें फ्री में? आज हम इसी सवाल को हल करने के लिए ये पोस्ट लेकर आयें है। वैसे इसे बनाना कोई कठिन काम नहीं है। आजकल कई ऐसे प्लेटफॉर्म मौजूद है जिनकी मदद से चुटकियों में वेबसाइट बना सकते है। आज इसके बारे में कुछ ऐसा आसान तरीका लेकर आयें है जिसे अमल में लाकर आप खुद बोल देंगे कि कितना सरल था।

यदि आपको भी अपनी नई ब्लॉग वेबसाइट बनाना है तो यह पोस्ट आपकी जरूर हेल्प करेगा। आज इस पोस्ट में हम फ्री वेबसाइट बनाना सीखेंगे।

Blog क्या है? Website क्या है? -


ब्लॉग और वेबसाइट में मात्र इतना अंतर है जितना कि फेसबुक और गूगल में। मतलब समझे! शायद नहीं। अरे भाई फेसबुक एक कंपनी का ब्लॉग है और गूगल website। दोनो में knowledge ही शेयर किया जाता है लेकिन इनमें कितना बडा़ अंतर है। फेसबुक social networking के माध्यम से लोगों को जोड़ने का काम करता है वही दूसरी ओर गूगल सर्च इंजन की सहायता से पूरे world के सवालों के जवाब देता है।

तो एक पूरी दुनिया को एक बंधन में जोड़ने की कोशिश करता है तो दूसरा knowledge बढा़ता है। तो आप इससे Idia लगा सकते है कि ब्लॉग क्या होता है।

पढे - ब्लॉग कैसे लिखे हिन्दी में
   
(ब्लॉग को डिजाइन कैसे करे )

गूगल पर फ्री अपना Blog website कैसे बनाएं - How To Make Website In Hindi

इसके लिए हम आपको कुछ स्टेप्स बतायेंगे जिन्हें आपको फॉलो करना है। फ्री वेबसाइट बनाना वैसे बिल्कुल आसान है।
 चलिए मोबाइल से ब्लॉग कैसे बनाये? का तरीका हिन्दी में जानते है।

वेबसाइट बनाने के लिए क्या करें  या वेबसाइट बनाने की प्रक्रिया या ब्लॉग बनाने का आसान तरीका हिन्दी में- 

अपनी वेबसाइट शुरू करना बिल्कुल आसान है। आप नीचे दिये गये स्टेप्स फॉलो करके अपना ब्लॉग बना सकते है।

अपना टॉपिक चुनें -

ब्लॉग किस टॉपिक पर बनायें? यह ब्लॉग या वेवसाइट बनाने के पहले का काम है क्योंकि आप ब्लॉगिंग चुन रहे है तो आपको अपने पसंद का टॉपिक भी चुनना चाहिए। यदि बिना intrest का टॉपिक चुनोंगे तो कुछ दिनों तक तो जबरदस्ती घसीट सकते है लेकिन ज्यादा दिन तक नहीं चला पायेंगे जिससे आपको असफलता हाथ लगेगी। इसलिए इसमें सोच समझकर पैशन के हिसाब से ही अपना ब्लॉग टाइटल या नीचे चूज करना है।

मैं आपको कुछ टॉपिक की लिस्ट दिये दे रहा हू़ं।

  • Recipes gyan
  • Health news
  • Politics news
  • Lifestyle news


आप इनमें से कोई भी सेलेक्ट कर सकते है। ये जरूरी नहीं है कि आप इन टॉपिक पर ज्यादा दिन तक एंजॉय कर पायेंगे। इसके लिए मैं आपको एक कैटेगरी लिस्ट दिये दे रहा हू्ं जिनकी मदद से आप खुद बा खुद एक अच्छा Topic बना सकते है।

ये हमने कुछ पॉपुलर कैटेगिरी की लिस्ट बनायी थी जिसे हमने रैंक और ट्रॉफिक के हिसाब से बनाया है।

डोमेन नेम का चुनाव करे या खरीदें-


अब इसके बाद आपको एक अच्छे डोमेन का चुनाव करना है जिसकी क्वालिटी उच्च हो। एक अच्छा डोमेन की पहचान ये है कि जिसका एक बार नाम ले लिया जाये तो सदा के लिए याद हो जाये पर ऐसे डोमेन ढूंढने में बहुत टाइम लगता है लेकिन यदि मिल गये तो आपको सक्सेज होने से कोई रोक नहीं सकता है।

वैसे domain name कई extension के साथ आते है लेकिन .com सबसे ज्यादा पॉपुलर है क्योंकि यह पहले से ही हर एक की जुबान में है। इसका क्रेडिट गूगल और फेसबुक को जाता है क्योंकि ज्यादातर लोग इनकी वेवसाइट को  .com लगाकर ही सर्च करते हैं।

यह extension पूरे विश्व में फेमस है अत: कई टाइटल में पहले से वेवसाइट मौजूद है। अत: हो सकता है कि जो ब्लॉग नेम आपने चुना हो पहले से ले लिया हो। इसलिए इसे ढूंढने में कॉफी समय लग सकता है। अब तो 486 extension हो गये है। इनमें से सबकी अपनी पहचान है।

टिप्स - डोमेन नेम ऐसे चूज करे -


1- अपने पर्सनल नाम या ब्रॉड टॉपिक पर डो़मेन बनायें। आप जी हां आप अपने नाम से एक अच्छी ब्रांड बना सकते है। इसका जीता जागता प्रमाण नील पटेल को जाता है। वह नंबर 1 इंडियन ब्लॉगर है और एक बड़े अंग्रेजी लेखक है। अब तो वे हिन्दी में भी लिखने लगे है। उन्होंने अपने नाम की website बनायी थी और यही उनकी पहचान बन गयी है।

2- इसे सर्च करने के लिए eassy बनायें। क्योंकि आप नहीं चाहेंगे कि आपके सामने का बंदा आपका पूरा ट्रैफिक ले जाये। इसलिए कोशिश करें कि ऐसा नाम दे सके जो टाइप करने में आसान हो। जितना छोटा नाम ले सकते है उतना ही अच्छा है। इसका मतलब ये नहीं है कि ऐसा नाम ले ले जिसका कोई मतलब ही न हो। sort url ही एक ऐसा तरीका है जिसकी मदद से यूजर को mistyping करने से रोकता है।

3 - spelling or pronouns को तोड़ मरोड़ कर नहीं बनाना है। नहीं तो आपने देखा होगा कि जब भी धोखे से भी spelling mistake वाले words search करते है तो search engine उसे सही कर देता है। इसलिए किसी की नकल करके स्पेलिंग गलत करके वेवसाइट नेम नहीं चुनना है नही तो सही वाले मे ही आपका पूरा ट्रॉफिक चला जायेगा।

4- किसी कंपनी का नाम नहीं लेना है नहीं तो कंपनी आपके यूआरयल को सट डाउन करा सकती है। क्योंकि किसा का नाम यूज करना अपराध है।

5- नंबर और offencive word बिल्कुल भी यूज न करें। हो सके ऐसा नाम ले कि जिस पर आवश्यकता पड़ने पर सभी तरह के आर्टिकल लिख सके। 

अब आपके ं मन में एक सवाल उठ रहा होगा कि यह फ्री है या पेड। एक डोमेन की कीमत मात्र 10$ या 880 रूपये के करीब है। यह एक साल की कीमत है। यदि दो साल के लिए लेंगे तो 399 में या इससे कम मे मिल जायेगा वो भी .com extension के साथ। इसे आप godaddy या namecheap website से buy कर सकते है।

होस्टिंग सर्वर खरीदें -


अब आपको एक hosting buy करना चाहिए। यदि आपको अपना ब्लॉग वर्डप्रेस में बनाना है तो उसको होस्ट करना भी जरूरी है। यदि ब्लॉगस्पोट में बनाना है तो ये पोस्ट पढे - Blogspot Blog में डोमेन नेम कैसे Add करें । क्योंकि ब्लॉगर में इसे फ्री होस्ट कर सकते है।

वैसे wordpress website को होस्ट करने के लिए आपको कई सर्वर मिल जायेंगे लेकिन इनमें bluehost सबसे अच्छी स्पीड़ देता है। इसका चार्ज लगभग 3$ के करीब है।

आपको इसके अलावा कई hosting website like hostgator, dreamhost आदि मिल जायेंगी। किसी भी सर्वर को खरीदने से पहले हमें जरूर बता दें ताकि हम बता सके कि वे सही है या नहीं।

यदि आपके पास budget नहीं है या पैसे की कमी है या सिर्फ ब्लॉगिंग सीखना चाहते है तो इसके लिए आप wordpress free hosting ले सकते है। इसके लिए ये पोस्ट पढे़ - वर्डर्रप्रेस ब्लॉग को फ्री होस्टिंग में कैसे Install करें ।

Blogging Plateform Choose करे -


अब आपके सामने ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म को चुनने का विकल्प आता है। वैसे सबसे ज्यादा पॉपुलर blogspot और wordpress ही है। लेकिन कई और प्लेटफार्म है जिनकी मदद से एक अच्छी वेब साइट बना सकते है। हम आपको इन सब के बारे में बतायेंगे इसलिए पूरी पोस्ट पढ़ते रहे।

इसकी जरूरत इसलिए पड़ती है क्योंकि बिना सॉफ्टवेयर के आप वेवसाइट बना ही नहीं सकते है क्योंकि इसके लिए बहुत कोडिंग की जरूरत पड़ती है और जल्दी कोई मैनुअल तरीके का इस्तेमाल भी नहीं करता है। लेकिन कई ऐसे free or paid plateform है जो कुछ मिनटों में वेवसाइट बना देते है।

लेकिन कई फ्री प्लेट फार्म कुछ सुबिधायें नहीं देते है जिनका जिक्र मैं नीचे दे रहा हूं। wordpress free blog के साथ भी ऐसा है -

  1. आप उसे अपने कंट्रोल में नहीं रख सकते है। जब उनका मन करेगा तब आपको निकाल देंगे आप उनका कुछ नहीं कर सकते।
  2. आप उसे किसी भी कारण से बंद नहीं करा सकते है। 
  3. Webaddress बड़ा देते है जिसे ज्यादातर यूजर पसंद नहीं करते है।
  4. आप इसमें ऐड लगा के पैसै नहीं कमा सकते है। हां लेकिन ब्लागर इसकी सुबिधा देता है। इसमें adsense के ads लगा सकते है। लेकिन दूसऱो में बिल्कुल नहीं।


अब चलिए इनके बारे में विस्तार से जानते है फिर डिसाइड करिये कि आपके के लिए क्या सही है और क्या गलत?

Wordpress.org -  

यह एक self hosted blog होता है। इसे खुद अपने सर्वर में इंस्टाल करना पड़ता है इसलिए इसका पूरा कंट्रोल होता है। पूरे विश्व में लगभग 30% लोग इसे ही यूज करते है। तो इससे आप अंदाजा लगा सकते है कि यह कितना फेमस है।

इसके लिए आपके द्वारा managed hosting में एक वर्ड प्रेस software install या अपलोड़ करने का विकल्प होता है। जिसकी मदद से आसानी से 10-20  मिनट में खुद की वेबसाइट बना सकते है।

इसमें पोस्ट लिखना भी बिल्कुल आसान है और सीईओ लिंक भी बना सकते है। इसके लिए आपको ऑनलाइन कई आर्टिकल मिल जायेंगे। इसके बारे में हमने भी लिखा है।

यहां पर आपको डिजाइन युक्त फ्री थीम भी मिल जायेंगी जो देखने पर बहुत आकर्षक दिखती है।

और अधिक फंसन का लुत्फ लेने के लिए 4500 से अधिक free plugins मौजूद है। जिनकी सहायता से अपने ब्लॉग को एक अच्छा लुक और funcatally strong बना सकते है। 

यदि प्रोफेसनल बनना चाहते है तो मैं आपको रिकमंडेड करूंगा कि इसे ही ट्राई करें। कॉमर्शियल और हॉबी के लिए भी अच्छा है।

यदि wordpress में transfer होना चाहतें है तो इसे भी पढे - Blogspot Blog को Wordpress में Transfer कैसे करें ।

Wordpress.com -

यह पहले से online hosted होता है इसलिए इसमें होस्टिंग की कोई जरूरत नहीं है और न ही डोमेन की क्योंकि ये सिर्फ अपने दिये गये सबडोमेन पर ही काम करता है। इसमें वेवसाइट नेम के साथ wordpress.com भी जुड़ा रहता है।

इसमें सिर्फ साइन अप करना है बाकी किसी प्रकार का झंझट नहीं है। यह तीन प्रकार के प्लॉन को ऑफर करता है।
  • बेसिक ब्लॉगर - 0$
  • प्रोफेसनल - 99 $ पर वर्ष
  • बिजनेस - 299 $
लेकिन इसमें सिर्फ 100 free themes बस है और न ही इसके सबडोमेन का नाम बदल सकते है। जिसके पास हॉबी के लिए पैसे नहीं है या इसे सीखने के लिए यूज कर सकता है। इसमें आपको सभी सुबिधायें मुफ्त में मिलेंगी। एड लगाने के लिए पैसे देने पड़ेंगे।

तो इससे आपके सवाल -  Wordpress पर फ्री Blog कैसे बनाएं? wordpress ब्लॉग कैसे बनायें का जवाब मिल गया होगा। यदि कोई समस्या आये तो कमेंट में जरूर बताएं।

Blogspot.com -

यह गूगल के द्वारा बनाया गया फ्री प्लेटफॉर्म है जिसमें ऐडसेंस के ऐड़ लगा सकते है और यह बिल्कुल वर्डप्रेस के फ्री प्लॉन की तरह है।

इसमें साइन अप करने के लिए गूगल एकाउंट की सिर्फ आवश्यकता पड़ती है। यह एकाउंट बनाते ही आपका ब्लॉग सेटअप करने का ऑप्सन देता है।

इसमें फ्री सबडोमेन सेटअप और डोमेन एड एक साथ या अलग-2 कर सकते है। इसमें नेम के बाद blogspot.com लगा होता है जब सबडोमेन लेते है।

यह hobby or स्माल personal काम के लिए बढिया विकल्प है। तो आपको इससे इस सवाल का जवाब मिल गया होगा कि Blogger में फ्री ब्लॉग कैसे बनाये और फ्री वेबसाइट कैसे बनाये?


Tumbler - 

यह माइक्रो नीचे हिन्दी सोसल मीडिया प्लेटफॉर्म है जिसमें सॉर्ट कंटेट शेयर कर सकते है। यह मुख्यत: हॉबी ब्लॉगर, quotes, movies और फोटोज शेयर करने के लिए बनाया गया है। इसके लिए यहां एक सबडोमेन भी मिलता है।

यदि आप क्वालिटी सॉर्ट डिस्क्रप्सन लिखने में माहिर है तो इस सोसल नेटवर्क से बहुत सारा ट्रॉफिक पा सकते है। अत: इसकी मदद से ब्लॉग का सेल्फ प्रोमोशन कर सकते हैं।

अंत में हम आपसे यही कहेंगे कि आपको वेबसाइट क्या है? ब्लॉग कैसे बनाये वाली पोस्ट कैसी लगी? उम्मीद है कि आपने ब्लॉग अवश्य बना लिया होगा। यदि कोई समस्या है तो कमेंट में जरूर बतायें।

1 Comments

Post a Comment

Previous Post Next Post